उपाय

जब मंगल करे अमंगल तो ये उपाय जरूर करे....
=================================
जिनका मंगल बलिष्ट हो तो उनका शारीर पुष्ट होगा, भाई-बहन का सुख होगा, सुख-सम्पति , मकान जमीन-जायदाद का लाभ होगा व्यापार नौकरी में तरक्की होगी लेकिन जिनका मंगल कुपित हो, वक्री हो,कमजोर हो तो ऐसे जातकों को विशेष ध्यान रखना होगा १ ऐसे जातकों को निम्न परेशानियां हो सकती हैं :-

१ :- जातक को गुस्सा बहुत आयेगा, B .P बढ़ जायेगा।

२ :- दिल और दिमाग का संतुलन बिगड़ जायेगा , जातक घमंड बहुत करेगा, अहम् के कारण किसी की सलाह से काम नहीं करेगा।

३ :- वैवाहिक जीवन दुखी रहेगा, पति-पत्नी बीमार रहेंगे , संतान को भी कष्ट रहेगा

४ :-सिर दर्द, आंखों की परेशानी, रक्त संबंधि परेशानियां, बाल झड़ने की समस्या आदि तंग करेंगे

५ :- काम-धंधे कि शुरुआत अच्छी होगी लेकिन बाद में ठप्प पड़ जायेगा

६ :- गैर-क़ानूनी काम करने की तरफ झुकाव होगा , नैतिक मूल्यों का ह्रास होगा।

७ :- पितृ स्थान पर प्रतिष्ठा नहीं मिलेगी

८ :- अपने से वरिष्ठ कि बातों को नहीं मानेंगे, अपने को ही सही मानेंगे

९ :- पढ़ाई में मन नहीं लगेगा , पूजा पाठ में मन नहीं लगेगा

१० :- जातक हिंसक प्रवृति का हो जायेगा , कई बार तो जातक 
गुस्से में अपने आपको भी नुक्सान पहुंचा लेते हैं

११ :- मुकदमे-बाजी में फसेंगे, जमीन जायदाद का नुकसान होगा , घर में निरर्थक कलह होगी।

उपाय:- उपरोक्त लक्षण दिखाई दें तो निम्न उपाय करें :-

१ :- ताकत वाली चीजें खांए, ठंडी,खट्टी चीजों से बचें , गुस्से व 
झूठे अहम् से बचें और बड़ों तथा माता-पिता का आदर करें .

२ :- कबूतरों को ज्वार खिलाएं, लाल, हरे, काले, नीले रंग से परहेज करें 
और लाल मसूर की दाल खाना छोड़कर दान करें, गुड-सौंफ का सेवन करें,

३ :- चीनी कम खाएं , गिलोय की डंडी का टुकड़ा सफ़ेद धागे में बांध
कर गले में धारण करें शारीर में ताकत आएगी और आत्मबल बढ़ेगा
गोमती चक्र को ताम्बे में जड़वाकर गले या हाथ में पहनें, मछली को दाना दें

४ :- मंगल बहुत ज्यादा कुपित हो तो अनंतमूल कि जड़ गले में धारण करें