पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को उन लोगों को करारा जवाब दिया जो लोग उनपर मुसलमानों के प्रति तुष्टीकरण की नीति अपनाते है। महानगर के एक होटल में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम ममता ने कहा कि कुछ लोग यह आरोप लगाते रहे है कि ममता बनर्जी मुसलमानों के प्रति तुष्टीकरण की नीति अपनाती है। तो उन्हें यह याद रखना चाहिए कि पश्चिम बंगाल में देश के अन्य किसी भी राज्य से ज्यादा मुस्लिम रहते है।ममता ने कहा कि उन लोगों को यह मालूम होना चाहिए कि राज्य में करीब 30 फीसद मुसलमान रहते हैं, जो कि देश में सबसे ज्यादा है। आगे उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में ईसाई, जैन, बौद्ध सिख और भी कई समुदाय के लोग रहते हैं। ममता बनर्जी ने कहा ‘मैं किसी खास समुदाय के लिए काम नहीं करती हूं। जब मैं मुख्यमंत्री की कुर्सी पर हूं तो मुझे सबका ख्याल रखना है।’ उन्होंने कहा कुछ लोग धर्म के नाम पर सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश कर रहे है।मीडिया पर आरोप लगाते हुए ममता ने कहा कि मीडिया गुजरात में हो रही स्वाइन फ्लू पर मौन है। केवल गुजरात ही नहीं मीडिया अन्य भाजपा शासित राज्यों के मुद्दों पर भी मौन रही है, लेकिन पश्चिम बंगाल में छोटी-छोटी बातों पर हाय-तौबा मचाने लगती है।