पश्चिम बंगाल के मालदा में रैली के दौरान राहुल गांधी भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा ममता बनर्जी सरकार पर भी आक्रामक दिखे।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बंगाल में आपने सालों सीपीएम को देखा, उन्होंने एक संगठन की सरकार चलाई। फिर आपने ममता जी को चुना। जो अत्याचार सीपीएम के समय होता था वहीं अत्याचार आज ममता जी के समय हो रहा है। यहां कांग्रेसियों को मारा जाता है। बंगाल को सिर्फ एक व्यक्ति चलाती हैं। क्या एक व्यक्ति को प्रदेश को चलाने देना चाहिए? बंगाल की प्रगति के लिए कांग्रेस की सरकार जरूरी है। सभा से पहले अराजक स्थिति देखने को मिली। खबरों के मुताबिक राहुल की सभा शुरू होने से कुछ समय पहले समर्थकों के बीच जमकर कुर्सियां चलीं। मुख्य मंच पर स्थानीय और कुछ शीर्ष नेताओं की उपस्थिति के बीच भीड़ बेकाबू हो गई। लोग मुख्य मंच के लिए बने बैरिकेडिंग को तोड़ अंदर प्रवेश कर गए। पुलिस की सक्रियता के बीच हालात को काबू करने की कोशिश की गई। पुलिस जवानों के मौजूद रहते भी समर्थक एक दूसरे पर कुर्सियां फेंकते रहे। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद स्थिति संभाली।