ममता ने आरोप लगाए कि केंद्र सरकार हर चीज में आधार लगाकर निजता के अधिकार का उल्लंघन करने का प्रयास कर रही है।ममता ने कहा, भाजपा लोगों को धार्मिक आधार पर बांटना चाहती है। वे यही चालाकी पश्चिम बंगाल में करने का प्रयास कर रहे हैं। हम इसे कभी अनुमति नहीं देंगे। युवक और छात्र देश के भविष्य हैं और 2019 में केंद्र में परिवर्तन के लिए उन्हें लड़ना पड़ेगा।उन्होंने कहा, बंगाल रास्ता दिखाएगा। बंगाल भाजपा हटाओ, देश बचाओ, सांप्रदायिकता हटाओ, देश बचाओ का नारा देगा।तृणमूल छात्र परिषद् की तरफ से आयोजित रैली को संबोधित करते हुए ममता ने भाजपा नीत केंद्र सरकार पर निजता के अधिकारों का हनन करने का प्रयास करने के आरोप लगाए।उन्होंने कहा, केंद्र हर चीज पर आधार थोपना चाहता है। आपके निजी ब्यौरे तक उनकी पहुंच में होंगे। आधार को फोन से जोड़ने से पता चल जाएगा कि आप क्या कहते हैं, आप क्या करते हैं, आप कहां जाते हैं, क्या खाते हैं। क्या होगा जब डाटा हैक हो जाएगा निजता के अधिकार करा क्या होगा ! मुख्यमंत्री ने कहा, बंगाल में वे राम और रहीम को बांटने का प्रयास कर रहे हैं। राम ने कभी रहीम से लड़ाई नहीं की, राम की लड़ाई रावण से हुई। दिल्ली से फर्जी राम आ गए और वाम उनके साथ हो गए। वे दुर्गा मूर्त िविसर्जन और मुहर्म को लेकर सांप्रदायिक सौहार्द भड़काने का प्रयास कर रहे हैं। - भाषा