बात वर्ष 1947 की है। भारत सरकार ने अपना पहला बजट आजाद होने (15 अगस्त 1947) के तीन महीने के भीतर पेश कर दिया था। यानी आजाद भारत का पहला बजट 26 नवंबर 1947 को पेश किया गया। यह बजट आर के षणमुखम शेट्टी ने पेश किया था। स्वतंत्रता मिलने के बाद आर के षणमुखम शेट्टी देश के पहले वित्त मंत्री बने। षणमुखम शेट्टी की लापरवाही के कारण इंग्लैंड के तत्कालीन वित्त मंत्री की कुर्सी चली गई थी। हुआ ये कि षणमुखम शेट्टी की गलती की वजह से बजट का कुछ हिस्सा लीक हो गया, जिसके बाद इंग्लैंड में पत्रकार ने बजट पेश होने से पहले ही टैक्स से संबंधित तमाम जानकारियां सार्वजनिक कर दी। इसके बाद इंग्लैंड के वित्त मंत्री ह्यूज डॉल्टन को इस्तीफा देना पड़ गया था।​