कानूनी लड़ाई के बाद पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव कराए गए थे। चुनाव के दिन पश्चिम बंगाल के अलग अलग इलाकों में जमकर हिंसा हुई थी। हिंसा के लिए टीएमसी और बीजेपी ने एकदूसरे पर आरोप लगाया था।

west bengal panchayat counting
पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के लिए मतगणना जारी |तस्वीर साभार: ANI

कोलकाता: पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव के नतीजे आज सामने आ जाएंगे। 14 मई को भारी हिंसा के बीच चुनाव कराए गए थे। करीब 572 बूथों पर गड़बड़ी की शिकायत के बाद 16 मई को दोबारा मतदान कराया गया था। पंचायत चुनाव के नतीजों को इस लिए अहम बताया जा रहा है क्योंकि इससे जमीनी स्तर पर टीएमसी, बीजेपी, सीपीएम के ताकत का अंदाजा लग सकेगा। इस बीच उत्तरी बंगाल में कूचबिहार समेत 6 जिलों में मतगणना जारी है। 

Live Updates

पंचायत चुनाव के शुरुआती रुझानों में टीएमसी को बढ़त मिलती नजर आ रही है। नतीजों के औपचारिक ऐलान से पहले टीएमसी कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाना शुरू कर दिया है। 

एनएनआई के मुताबिक 31, 814 ग्राम पंचायतों में टीएमसी को 110 सीटों पर जीत हासिल हुई है जबकि 1208 सीटों पर आगे हैं। बीजेपी के खाते में चार सीट गई है जबकि वो 81 सीटों पर आगे है। लेकिन सीपीएम के खाते में अबतक महज तीन सीट गई है और 58 सीट पर वो आगे है। 

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान मरने वालों की संख्या 25 हो गई है। चुनाव वाले दिन अकेले 12 लोगों की मौत हुई थी। 

लोकसभा के पूर्व स्पीकर सोमनाथ चटर्जी ने निष्पक्ष चुनाव न करा पाने के लिए पश्चिम बंगाल चुनाव आयोग की आलोचना की। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की हत्या हुई है। 

बुधवार को केंद्र सरकार ने कहा था कि पंचायत चुनाव के दौरान जिस तरह से हिंसा हुई थी, वो पश्चिम बंगाल में कानून के राज की पोल खोलने के लिए पर्याप्त है।  

2019 में होने वाले आम चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव को अहम बताया जा रहा है।