अगले सोमवार, यानी 18 मई से कंटेनमेंट जोन छोड़कर हर जगह बस और मिनी बसें चलना शुरू हो जाएंगी। राज्य के परिवहन मंत्री शुभेन्दु अधिकारी ने यह जानकारी दी। बसों में यात्रियों की संख्या 20 रहेगी और स्वाभाविक तौर पर सभी यात्री व ड्राइवर, कंडक्टर को फिजीकल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ मास्क धारण करना होगा। कम यात्रियों के कारण बसों का किराया बेहिसाब बढ़ा दिया गया है। फिलहाल बसें प्रातः 7 से सायं 7 बजे तक अपने निर्धारित रूट पर चलेंगी।

कोलकाता, विधाननगर, हावड़ा आदि अंचलों के 13 रूटों पर शुरू की गयी सरकारी बस सेवा पहले देिन ही फिजिकल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाती दिखीं। नियमानुसार बसों में सिर्फ 20 सवारियां ली जानी थीं, लेकिन बसों में बेहिसाब यात्री देखे गए।

सुबह से बसों का परिचालन शुरू किया गया। दिन के समय कई रूटों की बसों में स्थिति ऐसी हो कि बस स्टॉप पर खड़ा हर व्यक्ति बस पकड़ने को बेताब था। लोगों ने मास्क अवश्य पहन रखे थे, लेकिन फिजिकल डिस्टेंसिंग की गम्भीरता से किसी को लेना देना नहीं था।

कोलकाता, विधाननगर, हावड़ा आदि अंचलों के 13 रूटों पर शुरू की गयी सरकारी बस सेवा पहले देिन ही फिजिकल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाती दिखीं। नियमानुसार बसों में सिर्फ 20 सवारियां ली जानी थीं, लेकिन बसों में बेहिसाब यात्री देखे गए।