मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भोपाल में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को चुनौती दे सकती हैं। टाइम्स नाउ के मुताबिक साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है। अगर वह बीजेपी के टिकट पर भोपाल से चुनाव लड़ती हैं तो मुकाबला और भी दिलचस्प हो जाएगा। भोपाल को बीजेपी का मजबूत गढ़ माना जाता है। मुख्यमंत्री कमलनाथ की इस चुनौती के बाद कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को मुश्किल सीटों से चुनाव लड़ना चाहिए, दिग्विजय सिंह ने भोपाल से चुनावी समर में उतरने का फैसला किया। अब साध्वी प्रज्ञा उन्हें चुनावी मैदान में टक्कर देने के मूड में हैं। 
एक दूसरे के धुर विरोधी 
साध्वी प्रज्ञा और दिग्विजय सिंह को एक दूसरे का धुर विरोधी माना जाता है। दिग्विजय सिंह कांग्रेस के उन चुनिंदा नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने यूपीए सरकार के दौर में 'भगवा आतंकवाद' के मुद्दे को जोर-शोर से उठाया। इतना ही नहीं, दिग्विजय ने तो मुंबई के 26/11 हमले को 'आरएसएस की साजिश' बताने वाली एक किताब का विमोचन तक किया था। हालांकि, सच्चाई यह है कि मुंबई हमले को पाकिस्तानी आतंकियों ने अंजाम दिया था और एक आतंकवादी अजमल कसाब को तो जिंदा भी पकड़ा गया था, जिसे बाद में यूपीए सरकार के दौरान ही फांसी दी गई थी। शायद यही वजह है कि साध्वी प्रज्ञा चुनावी बिसात पर दिग्विजय सिंह को चुनौती देना चाहती हैं