तृणमूल कांग्रेस के विधयाक और पूर्व सांसद इदरीस अली ने लॉकडाउन में शराब की दुकानें खोलने के फैसले को बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। साथ ही इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहरा दिया। इदरीस अली ने कहा कि मुझे लगता है कि शराब की दुकानों को खोलना अहम नहीं था, लोगों को सही ढंग से खाना नहीं मिल रहा और यहां सरकार शराब की दुकानें खोल रही है। वहां कोई भी सोशल डिस्टेंसिंग को नहीं मान रहा जो मेरे हिसाब से बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।इदरीस अली ने केंद्र सरकार पर प्रवासी मजदूरों का ख्याल रखने में नाकाम रहने का आरोप लगाया।